न्यूज

कर्नाटक में सियासी हलचल: इस्तीफे की अटकलों के बीच नड्‌डा से मिले मुख्यमंत्री येदियुरप्पा, गृह मंत्री शाह से भी मिलेंगे; इस्तीफे के सवाल पर बोले- इसमें कोई सच्चाई नहीं

103views


  • Hindi News
  • National
  • BS Yediyurappa Resignation; Karnataka News | Karnataka CM Yediyurappa Submitted Resignation To Prime Minister Modi

नई दिल्लीएक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मीटिंग के एक दिन बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने शनिवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा से मुलाकात की। इसके बाद वे गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भी मिलेंगे। पार्टी आलाकमान से मुलाकातों के बाद से ही कयास लगाए जाने लगे हैं कि येदियुरप्पा जल्द ही मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, बढ़ती उम्र और खराब सेहत की वजह से येदियुरप्पा अब मुख्यमंत्री नहीं बने रहना चाहते। हालांकि, इस्तीफे की अफवाहों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि यह बिल्कुल सच नहीं है। शुक्रवार को मैंने प्रधानमंत्री से मुलाकात की और हमने राज्य के विकास पर विस्तृत रूप से चर्चा की। अगले महीने के पहले हफ्ते में मैं फिर दिल्ली आऊंगा।

कर्नाटक में सत्ता वापसी के लिए काम करूंगा : येदियुरप्पा
नड्‌डा से मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि हमने देश और राज्य में पार्टी का विकास कैसे करें और कर्नाटक में पार्टी के अहम मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की। मेरे बारे में उनकी बहुत अच्छी राय है। मैं राज्य में फिर से सत्ता में आने के लिए पार्टी के लिए काम करूंगा।

कई मंत्री-विधायक कर रहे इस्तीफे की मांग
IT पार्क की जमीन में गड़बड़ी का आरोप को लेकर येदियुरप्पा पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। दरअसल, 15 साल पुराने एक जमीन घोटाले के मामले में स्पेशल कोर्ट ने मुख्यमंत्री के खिलाफ जांच जारी रखने का आदेश दिया है। कर्नाटक भाजपा के कई मंत्री और विधायक येदियुरप्पा को पद से हटाने की मांग कर रहे हैं।

15 साल पुराने लैंड डील के मामले ने मुश्किल बढ़ाई
यह मामला बेगलूरु से लगे बेल्लंदूर में बेशकीमती 4.30 एकड़ जमीन को गैर अधिसूचित करने से जुड़ा है। यह जमीन 2000-01 में वार्थुर-व्हाईटफील्ड आईटी पार्क के लिए अधिग्रहित की गई थी। हालांकि, 2006-07 में एच डी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली सरकार में उपमुख्यमंत्री रहे येदियुरप्पा ने इस जमीन को गैर अधिसूचित कर दिया। वासुदेव रेड्डी नामक एक व्यक्ति द्वारा लोकायुक्त अदालत में दायर की गई शिकायत में भूमि को गैर अधिसूचित करने में अनियमितता बरतने का आरोप लगाया था।

येदियुरप्पा पहली बार केवल 7 दिन सीएम रहे
येदियुरप्पा ने 2007 में पहली बार कर्नाटक के सीएम पद की शपथ ली थी, लेकिन तब वे केवल 7 दिन इस पद पर रहे थे। इसके बाद वे 2008 में सीएम बने, तब वे 3 साल 66 दिन तक इस पद पर रहे। इसके बाद 17 मई 2018 को उन्होंने सीएम पद की शपथ ली और 3 दिन बाद उन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Response