लाइफस्टाइल

कहीं दूसरों के लिए परेशानी तो नहीं बन रही आपकी ये आदतें? आज ही खुद को टटोलें

109views


Relationahip Tips, Trouble Making Habits: आमतौर यह देखने को मिलता है कि लोग अपने परिवार, दोस्‍तों, सहकर्मियों या किसी अंजान आदमी को क्रिटिसाइज करना अपना जन्‍म सिद्ध अधिकार समझते हैं. उनके किसी भी व्‍यवहार से दुखी हो जाते हैं और खुद की परेशानी की वजह दूसरों को ठहराते हैं. ऐसे लोगों की बुराई वे अपने दोस्‍तों या अन्‍य लोगों के सामने करने में थोड़ा भी झिझकते नही हैं. लेकिन ऐसे लोगों को अपने अंदर भी झांकने (Self Analysis) की जरूरत होती है. बेहतर होगा कि हम सभी अपने अंदर को टटोलें और देखें कि कहीं हममे भी तो कुछ ऐसी आदतें (Habits) तो नहीं हैं जो दूसरों की परेशानी का कारण बनती हों. तो आइए आज हम आपको बताते हैं लोगों की उन आदतों के बारे में जिनकी वजह से अन्‍य लोगों को दिक्कत हो सकती है.

1. सारा क्रेडिट खुद लेना

घर परिवार, दोस्‍तों, ऑफिस कलीग्‍स हर जगह आपको ऐसे लोग मिल जाएंगे जो अपनी वाहवाही के चक्‍कर में दूसरों का क्रेडिट लूट लेने का प्रयास करते हैं. अगर आपमें ये आदत है कि आप बड़ों या बॉस के सामने अपना इप्रेशन बनाने के लिए औरों के काम का श्रेय भी खुद ले लेते हैं तो यकीन मानिए आज ही अपनी इस आदत को बदल दीजिए. इस आदत की वजह से कुछ ही दिनों में लोग आपसे भागते फिरेंगे और आपके साथ काम करने से कतराने लगेंगे. यही नहीं, बॉस की नजर में भी आपका इंप्रेशन कम होता जाएगा.

इसे भी पढ़ें : हर वक्‍त रिलेशनशिप टूटने का रहता है डर तो इन बातों का रखें ख्याल

2. वैचारिक मतभेद पर झगड़ा

हर किसी की सोच और विचार एक जैसे नहीं हो सकता,लेकिन इसका मतलब ये भी नहीं है कि वैचारिक मतभेद होने पर आप लोगों की आलोचना करते फिरें या झगड़ा करते रहें. यह संभव है कि दफ्तर या घर पर दो सहकर्मी या सदस्‍यों के राजनीतिक, धार्मिक, सामाजिक, आर्थिक या व्यक्तिगत मुद्दों पर अलग-अलग विचार हों. लेकिन इसका मतलब ये कतई नहीं कि आप सबसे झगड़ेंगे. अगर आपमें ये आदत है तो आपको आत्‍ममंथन की जरूरत है.

3. जाति-धर्म पर कठोर टिप्पणी करना

किसी की व्‍यक्तिगत, जातिगत, धार्मिक, सामाजिक पंरपराओं पर टिप्पणी करना शिष्टता नहीं होती है. ऐसे में अगर आप हर किसी से उसका उपनाम, उसकी जाति या क्षेत्र आदि पर जबरदस्‍ती पूछताछ करते हैं तो यह आपकी गलत आदत है. ऐसा करने से आपसे लोग बचते फिरेंगे और आपकी इज्‍जत नहीं करेंगे.

4. व्‍यक्तिगत बातों में इंटरेस्ट लेना

अगर आप लोगों के न चाहते हुए भी बार बार खोद-खोदकर उनकी व्यक्तिगत बातें पूछते हैं तो ये गलत बात है. ऐसा करने से आपके और अन्‍य लोगों के आपसी व्यक्तिगत संबंधों पर बुरा असर पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें : कहीं दूसरों का तनाव खुद पर तो नहीं ले रहे आप? इस तरह पहचानें

5. फ्री का सजेशन देना

अगर आप हर किसी को अपना फ्री का सजेशन देने लगते हैं तो यकीन मानिए आपकी इस आदत से लोग परेशान हो सकते हैं. ऐसे में बिना मांगे सजेशन ना दें.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

Leave a Response