प्रौद्योगिकी

कोरियाई अखबार का दावा: इलेक्ट्रिक कार बनाने के लिए साझेदारी करेंगे हुंडई मोटर और एपल, 2024 में उत्पादन शुरू होने की संभावना

27views


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हुंडई और एपल अगले साल कार का बीटा वर्जन जारी करने की योजना बना रहे हैं।

  • मार्च में समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे हुंडई मोटर और एपल
  • पहले साल 1 लाख इलेक्ट्रिक कारों के उत्पादन की योजना

अमेरिका की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी एपल इंक इलेक्ट्रिक कार बनाने की योजना पर काम कर रही है। इसके लिए एपल दक्षिण कोरिया की हुंडई मोटर के साथ साझेदारी पर सहमत हो गई है। दोनों कंपनियां इस साल मार्च तक एक समझौते पर हस्ताक्षर करेंगी। दोनों कंपनियों का जॉइंट वेंचर 2024 में अमेरिका से इलेक्ट्रिक कारों का उत्पादन शुरू कर सकता है। कोरिया के एक स्थानीय अखबार की रिपोर्ट में यह दावा किया गया है।

हुंडई मोटर ने शुक्रवार को की थी बातचीत की पुष्टि

यह रिपोर्ट हुंडई मोटर के शुक्रवार के बयान के बाद आई है। बयान में हुंडई मोटर ने कहा था कि इलेक्ट्रिक कार बनाने को लेकर उसकी एपल के साथ प्रारंभिक स्तर की बातचीत चल रही है। इससे पहले एक अन्य स्थानीय मीडिया आउटलेट ने दावा किया था कि हुंडई मोटर और एपल 2027 तक सेल्फ ड्राइविंग इलेक्ट्रिक कार लॉन्च करने की योजना बना रहे हैं। इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद हुंडई के शेयरों में 20% तक का उछाल आ गया था।

किआ मोटर्स की जॉर्जिया फैक्ट्री से शुरू हो सकता है उत्पादन

ताजा रिपोर्ट में इंडस्ट्री सूत्रों के हवाले से कहा गया है इस समझौते के तहत दो प्लान पर काम किया जा रहा है। पहले प्लान के तहत किआ मोटर्स की जॉर्जिया फैक्ट्री से उत्पादन शुरू किया जा सकता है। दूसरे प्लान के तहत दोनों कंपनियां संयुक्त निवेश के जरिए अमेरिका में नई फैक्ट्री बना सकते हैं। प्रस्तावित फैक्ट्री से 2024 में एक लाख वाहनों का उत्पादन किया जाएगा। इस प्लांट की सालाना क्षमता 4 लाख वाहनों के उत्पादन की होगी। किआ मोटर्स हुंडई मोटर्स की सहायक कंपनी है।

अगले साल जारी हो सकता है कार का बीटा वर्जन

रिपोर्ट में कहा गया है कि हुंडई और एपल अगले साल कार का बीटा वर्जन जारी करने की योजना बना रहे हैं। इस इलेक्ट्रिक कार को एपल कार नाम दिया जा सकता है। हालांकि, हुंडई मोटर और एपल ने अभी तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। पिछले महीने रॉयटर्स ने एक रिपोर्ट में कहा था कि एपल ऑटोनोमस कार टेक्नोलॉजी पर काम कर रही है। कंपनी की योजना 2024 तक पैसेंजर व्हीकल बनाने की है। इस व्हीकल में कंपनी की अपनी ब्रेकथ्रो बैटरी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल हो सकता है।



Source link

Leave a Response