लाइफस्टाइल

जब बच्‍चे हों कान के दर्द से परेशान, ये तरीके दिलाएंगे आराम– News18 Hindi

67views


कई बार बच्‍चों के कान में असहनीय दर्द होने लगता है. इससे उनके साथ पैरेंट्स (Parents) भी काफी परेशान रहते हैं. कई बार यह दर्द कान में कुछ इंफेक्‍शन (Infection) होने की वजह से या फिर किसी अन्‍य कारण से भी हो सकता है. वहीं अगर यह दर्द (Pain) बच्‍चे को रात में हो तो समस्‍या और बढ़ जाती है, क्‍योंकि उसे डॉक्‍टर को दिखाने जाना संभव नहीं होता. ऐसे में कुछ घरेलू उपाय अपना कर इस दर्द को कम किया जा सकता है. ऐसे में

सिकाई से मिलेगा आराम

अगर बच्चे के कान में लगातार दर्द रहे तो इसमें गरम पानी से सिकाई करके कम किया जा सकता है. इसके लिए सूती मोटे कपड़े को दूर से आंच दिखा कर हल्‍का सा गरम करें और फिर इससे बच्चे की कान की सिकाई करें. इससे दर्द कम हो जाएगा और बच्‍चे को आराम मिलेगा.

ये भी पढ़ें – महीने के वे खास दिन होते हैं बदलाव से भरे, पैरेंट्स ऐसे रखें बेटी का ध्‍यान

तुलसी की पत्तियों का रस
बच्‍चे के कान में दर्द होने पर आप तुलसी की पत्तियों का इस्‍तेमाल कर सकते हैं. औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी की पत्तियां दर्द में आराम दिलाएंगी. इसके लिए तुलसी के पत्तों के रस की कुछ बूंदें बच्‍चे के कान में डालें. दर्द से राहत मिलेगी.

गुनगुने तेल से करें मालिश

कान के दर्द में गुनगुने तेल की हल्‍की मसाज से आराम मिलता है. इसके लिए जैतून या सरसों के तेल ले सकते हैं. इसके लिए बच्‍चे के कान के बाहरी भाग पर तेल से हल्‍के हाथ से मसाज करें. बच्‍चे को आराम महसूस होगा.

ये भी पढ़ें – डायबिटीज के मरीजों का ब्‍लड शुगर लेवल रहेगा कंट्रोल, अपनाएं ये तरीके

तेल से मिलेगा आराम

अक्‍सर कान में मैल जम जाने की वजह से भी दर्द होने लगता है. इसके लिए लोग सरसों का तेल की कुछ बूंदें डालते हैं. आप भी अगर सरसों या किसी अन्‍य तेल का इस्‍तेमाल कान में डालने के लिए करना चाहते हैं, तो इसके लिए पहले डॉक्‍टर से सलाह जरूर ले लें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

(function(f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function() {
n.callMethod ?
n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
};
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
})(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);



Source link

Leave a Response