लाइफस्टाइल

रमज़ान स्‍पेशल: दुनिया की सबसे खूबसूरत और ऐतिहासिक मस्जिदें, जानें ये क्‍यों हैं खास

98views


Ramadan Special: मस्जिद मुसलमानों के लिए पाक और इबादत (Worship) की जगह होती हैं. यहां सभी मुसलमान मिल कर एक साथ अल्‍लाह की इबादत करते हैं, नमाज अदा करते हैं. दुनिया में कई ऐसी मस्जिदें हैं, जो इस्लामी संस्कृति का प्रतिनिधित्व करती हैं. ये खूबसूरत मस्जिदें (Most Beautiful Mosque) इस्‍लामिक धर्मस्थल होने के अलावा अपनी बनावट, आर्किटेक्‍चर और कला (Architecture And Art) के नजरिये से भी बेहद खास मानी जाती हैं. आप भी जानिए दुनिया की कुछ सबसे खूबसूरत और ऐतिहासिक (Historical) मस्जिदों के बारे में, जो दुनिया के कई देशों में बनाई गई हैं-

मस्जिद अल-हरम
मक्का मुकर्रमा में स्थित मस्जिद अल-हरम दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे खूबसूरत मस्जिद है, जहां दुनिया भर के मुसलमान इबादत करने आते हैं. इस मस्जिद का निर्माण हज़रत इब्राहिम और हज़रत इस्माईल ने शुरू किया था. एआरवाई की एक रिपोर्ट के मुताबिक मस्जिद अल-हरम के मध्य में बैतुल्लाह स्थित है, जिसकी ओर रुख करके दुनिया भर के मुसलमान दिन में पांच बार नमाज़ अदा करते हैं.

ये भी पढ़ें – Ramadan 2021: इफ्तार में इसलिए खाते हैं खजूर, सेहत को मिलते हैं फायदेमस्जिद-ए-नबवी

काबा शरीफ़ के बाद मस्जिद नबवी मुसलमानों के लिए दुनिया का सबसे अहम और पवित्र स्‍थान है. मस्जिद-ए-नबवी के निर्माण की शुरुआत 18 रबी-उल-अव्‍वल सन् 1 हिजरी को हुई. हुज़ूरे अकरम ने मदीना हिजरत के तुरंत बाद इस मस्जिद के निर्माण का आदेश दिया और खुद भी इसके निर्माण में हिस्सा लिया था. मस्जिद की दीवारें पत्थर और ईंटों से और छत लकड़ी से बनाई गई है.

नीली मस्जिद
तुर्की के शहर इस्तांबुल को खूबसूरत मस्जिदों का शहर भी कहा जाता है. यहां नीली मस्जिद स्थित है. इस मस्जिद की 6 मीनारें सुइयों की तरह दिखती हैं, जो इस मस्जिद की खूबसूरती में चार चांद लगाती हैं. मस्जिद का निर्माण 1609 और 1616 के बीच ओटोमन शासक अहमद प्रथम ने किया था. मस्जिद के चारों तरफ नीली टाइल्‍स लगी हैं और इसी वजह से इसे नीली मस्जिद नाम दिया गया है.

इस मस्जिद की 6 मीनारें इसकी खूबसूरती में चार चांद लगाती हैं. Image/Shutterstock

शेख जायद मस्जिद
संयुक्त अरब अमीरात में स्थित इस मस्जिद की खूबसूरती इसे और खास बनाती है. इस मस्जिद में 82 गुंबदों का निर्माण किया गया है, जबकि मस्जिद को सोने के पानी चढ़े झूमर से सजाया गया है. इस मस्जिद में दुनिया की सबसे बड़ी हस्तनिर्मित कालीन बिछाई गई है. वहीं दुनिया के मुख्य हॉल में सबसे बड़ा झूमर लगाया गया है. इसके अलावा मस्जिद के अंदर सुंदर तालाब बनाए गए हैं, जो मस्जिद की खूबसूरती को और बढ़ाते हैं.

देश की मशहूर जामा मस्जिद
मस्जिद जहांनुमा ही जामा मस्जिद के नाम से मशहूर है. यह भारतीय राजधानी दिल्ली की सबसे महत्वपूर्ण मस्जिद है. इसे मुगल सम्राट शाहजहां ने बनवाया था जो 1656 में बनकर तैयार हुई. यह भारत की सबसे बड़ी और सबसे मशहूर मस्जिदों में से एक है. मस्जिद के आंगन में 25,000 से अधिक नमाज़ी एक साथ इबादत कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें – शब-ए-बरात में मिलती है गुनाहों की माफी

मुहम्मद अली मस्जिद
मुहम्मद अली मस्जिद मिस्र की राजधानी काहिरा में स्थित है. यह काहिरा की सबसे प्रमुख मस्जिदों में से एक है और शहर में आने वाले सैलानी सबसे पहले इसी मस्जिद को देखना पसंद करते हैं. इस मस्जिद का निर्माण 1830 से लेकर 1848 के बीच हुआ.

window.addEventListener(‘load’, (event) => {
nwGTMScript();
nwPWAScript();
fb_pixel_code();
});
function nwGTMScript() {
(function(w,d,s,l,i){w[l]=w[l]||[];w[l].push({‘gtm.start’:
new Date().getTime(),event:’gtm.js’});var f=d.getElementsByTagName(s)[0],
j=d.createElement(s),dl=l!=’dataLayer’?’&l=”+l:”‘;j.async=true;j.src=”https://www.googletagmanager.com/gtm.js?id=”+i+dl;f.parentNode.insertBefore(j,f);
})(window,document,’script’,’dataLayer’,’GTM-PBM75F9′);
}

function nwPWAScript(){
var PWT = {};
var googletag = googletag || {};
googletag.cmd = googletag.cmd || [];
var gptRan = false;
PWT.jsLoaded = function() {
loadGpt();
};
(function() {
var purl = window.location.href;
var url=”//ads.pubmatic.com/AdServer/js/pwt/113941/2060″;
var profileVersionId = ”;
if (purl.indexOf(‘pwtv=’) > 0) {
var regexp = /pwtv=(.*?)(&|$)/g;
var matches = regexp.exec(purl);
if (matches.length >= 2 && matches[1].length > 0) {
profileVersionId = “https://hindi.news18.com/” + matches[1];
}
}
var wtads = document.createElement(‘script’);
wtads.async = true;
wtads.type=”text/javascript”;
wtads.src = url + profileVersionId + ‘/pwt.js’;
var node = document.getElementsByTagName(‘script’)[0];
node.parentNode.insertBefore(wtads, node);
})();
var loadGpt = function() {
// Check the gptRan flag
if (!gptRan) {
gptRan = true;
var gads = document.createElement(‘script’);
var useSSL = ‘https:’ == document.location.protocol;
gads.src = (useSSL ? ‘https:’ : ‘http:’) + ‘//www.googletagservices.com/tag/js/gpt.js’;
var node = document.getElementsByTagName(‘script’)[0];
node.parentNode.insertBefore(gads, node);
}
}
// Failsafe to call gpt
setTimeout(loadGpt, 500);
}

// this function will act as a lock and will call the GPT API
function initAdserver(forced) {
if((forced === true && window.initAdserverFlag !== true) || (PWT.a9_BidsReceived && PWT.ow_BidsReceived)){
window.initAdserverFlag = true;
PWT.a9_BidsReceived = PWT.ow_BidsReceived = false;
googletag.pubads().refresh();
}
}

function fb_pixel_code() {
(function(f, b, e, v, n, t, s) {
if (f.fbq) return;
n = f.fbq = function() {
n.callMethod ?
n.callMethod.apply(n, arguments) : n.queue.push(arguments)
};
if (!f._fbq) f._fbq = n;
n.push = n;
n.loaded = !0;
n.version = ‘2.0’;
n.queue = [];
t = b.createElement(e);
t.async = !0;
t.src = v;
s = b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t, s)
})(window, document, ‘script’, ‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘482038382136514’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);
}



Source link

Leave a Response