प्रौद्योगिकी

शर्त मंजूर है!: वॉट्सऐप की नई शर्तें सभी के लिए मानना जरूरी होगा, ना करने पर अकाउंट डिलीट करना होगा

4views


  • Hindi News
  • Tech auto
  • WhatsApp Users Must Accept Updated Terms Of Service In 2021, Or ‘Delete Account’: Report

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • वॉट्सऐप अपनी सर्विस को लेकर कई शर्तें 8 फरवरी, 2021 से लागू करने जा रही है
  • वॉट्सऐप को ट्रैक करने वाली वेबसाइट WABetaInfo ने इसका स्क्रीनशॉट शेयर किया है

नए साल में वॉट्सऐप की टर्म्स एंड कंडीशन को मानना सभी यूजर्स के लिए जरूरी होगा। यदि यूजर उन्हें एक्सेप्ट नहीं करेंगे तब वे अपना अकाउंट डिलीट कर सकते हैं। दरअसल, वॉट्सऐप अपनी सर्विस को लेकर कई शर्तें 8 फरवरी, 2021 से लागू करने जा रही है। इसमें कहा गया है कि यदि आपको वॉट्सऐप सर्विस की शर्तें मंजूर नहीं हैं तो अपना अकाउंट को डिलीट कर सकते हैं।

वॉट्सऐप के फीचर्स और नए अपडेट को ट्रैक करने वाली वेबसाइट WABetaInfo ने एक स्क्रीनशॉट शेयर किया है। स्क्रीनशॉट के मुताबिक, नई शर्तों में साफ तौर पर लिखा गया है कि यदि किसी यूजर को कंपनी की शर्तें मंजूर नहीं हैं तो वह अपना अकाउंट डिलीट कर सकता है।

नई शर्तों में यह भी बताया गया है कि नए साल में फेसबुक की स्वामित्व वाली कंपनी वॉट्सऐप यूजर्स के डाटा का इस्तेमाल किस तरह करेगी। इसमें यह बताया गया है कि फेसबुक बिजनेस के लिए आपके चैट को कैसे स्टोर और मैनेज किया जाएगा।

व्हाट्सएप के स्पोक्सपर्सन ने भी नई शर्तों को लेकर पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि वॉट्सऐप यूज करने के लिए उसकी शर्तों को मानना अनिवार्य होगा। ये शर्तें अगले साल 8 फरवरी से लागू होंगी।

वॉट्सऐप के नए फीचर्स

वॉट्सऐप ने हाल ही में आधिकारिक तौर पर डिसअपीयरिंग मैसेज फीचर रोलआउट करने की घोषणा की थी और अब यह फीचर सभी भारतीयों के लिए उपलब्ध है। एक बार वॉट्सऐप डिसअपीयरिंग मैसेज फीचर इनेबल हो जाने के बाद, मैसेज भेजे जाने के सात दिनों के बाद मीडिया फाइल्स, ऑडियो फाइल्स और अन्य कंटेंट ऑटोमैटिक चैट से गायब हो जाएंगे।

वहीं, कंपनी ने पेमेंट फीचर भी रोलआउट कर दिया है। कंपनी ने एक ब्लॉग पोस्ट के जरिए यह जानकारी दी। नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने वॉट्सऐप को UPI बेस्ड पेमेंट सर्विस शुरू करने की मंजूरी दी है। वॉट्सऐप फेसबुक की सब्सिडियरी कंपनी है। इसका अपडेट धीरे-धीरे कर यूजर्स के पास आएगा।



Source link

Leave a Response