न्यूज

IPS vs सोशल मीडिया यूजर्स: पटाखों पर बहस के बाद IPS डी रूपा ने ट्विटर से ब्रेक लिया, वीडियो शेयर कर लिखा- मेरे बारे में जानिए

7views


  • Hindi News
  • National
  • IPS D Roopa Took A Break From Twitter After Debating The Firecrackers, Shared The Video And Wrote Know About Me

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बेंगलुरु40 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

IPS डी रूपा ने ट्वीट करके ट्वीटर से ब्रेक लेने की जानकारी दी। (फाइल फोटो)

दिवाली में पटाखों पर बैन लगाने की बात कहकर कर्नाटक की प्रमुख सचिव गृह और सीनियर IPS ऑफिसर डी रूपा लगातार ट्विटर पर ट्रोल हो रहीं हैं। इससे परेशान होकर अब उन्होंने इस माइक्रोब्लॉगिंग साइट से ब्रेक लेने का फैसला लिया है।

शनिवार को 6 घंटे के अंदर 19 ट्वीट करके डी रूपा ने ट्रोलर्स को मैसेज भी दिया। इनमें कुछ पुराने वीडियोज भी शेयर किए। इनमें उनकी लाइफ की पूरी कहानी है। डी रूपा ने आगे लिखा, ‘जो मुझे नहीं जानते हैं और मुझे ट्रोल कर रहे हैं वे इन वीडियोज को देखकर मेरे बारे में जान लिजिए। ये हिंदी में हैं। एक साउथ इंडियन होने के बावजूद दूरदर्शन से मैंने हिंदी सीखा है।’

दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, मुझ पर दबाव बनाने के लिए हैश टैग चलाए गए। सब जानते हैं कि मैं एक सरकारी कर्मचारी हूं और ट्रोलर्स को उनकी भाषा में जवाब नहीं दे सकती। अब आप बताइए कि ट्विटर पर सबसे ज्यादा पॉवरफुल कौन है?

यूजर से बहस होने के बाद से ट्रेंड कर रहीं हैं रूपा
पिछले हफ्ते पटाखे बैन करने को लेकर रूपा की @TrueIndology नाम के ट्विटर यूजर से बहस हो गई थी। यूजर्स दिवाली पर कई राज्यों में पटाखों पर लगे बैन से नाखुश थे। वे व लगातार ट्विटर पर सरकारों की खिंचाई कर रहे थे। इस पर डी. रूपा का कहना था कि दिवाली पर पटाखे चलाने की कोई परंपरा नहीं है। ये हिंदू रीति रिवाजों से नहीं जुड़ा है। दिवाली पर आतिशबाजी नई परंपरा है। इसलिए इस पर लगने वाले बैन को पॉजिटिव तरीके से लेना चाहिए।

डी रूपा के इस बयान का भारतीय संस्कृति, सभ्यता और सनातन धर्म की जानकारी रखने का दावा करने वाले ट्विटर यूजर @TrueIndology ने विरोध किया था। इसके बाद ट्विटर ने @TrueIndology का अकाउंट ही सस्पेंड कर दिया। इसके बाद से डी रूपा के खिलाफ ट्विटर पर यूजर्स सक्रिय हैं और उन्हें ट्रोल कर रहे हैं।

कंगना ने भी डी रूपा को किया था ट्रोल
अभिनेत्री कंगना रनौत ने भी पटाखों पर बैन के बयान पर IPS डी रूपा को ट्रोल किया था। उन्होंने ट्वीट करके डी रूपा को पुलिस विभाग पर धब्बा बताया और उनके अकाउंट को सस्पेंड करने की मांग की थी।

2000 बैच की IPS रूपा के बारे में जानिए

  • डी रूपा 2000 बैच की तेज-तर्रार IPS ऑफिसर हैं। उन्हें कर्नाटक का प्रमुख सचिव गृह बनाया गया है।
  • इस पद को संभालने वाली वह पहली महिला IPS ऑफिसर हैं।
  • उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया है कि 18 साल के कॅरियर में उनका 41 बार ट्रांसफर हो चुका है।
  • 2004 में IPS रूपा कर्नाटक पुलिस टीम के साथ मध्य प्रदेश की तत्कालीन सीएम उमा भारती को गिरफ्तार करने पहुंची थीं। उमा भारती पर 1994 हुबली में दंगे कराने का आरोप था।
  • डी रूपा ने ही तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता की बेहद करीबी रहीं शशिकला को VVIP ट्रीटमेंट मिलने का सनसनीखेज खुलासा किया था।

IPS संजय मित्तल ने भी ट्विटर छोड़ने का कहा, फिर पलटे

पटाखों पर बैन को लेकर छिड़ी बहस में तमिलनाडु कैडर के सीनियर IPS ऑफिसर संजय मित्तल भी कूद पड़े। संजय मित्तल ने शनिवार को दो बार ट्वीट करके ट्विटर छोड़ने की मंशा जाहिर की थी। उन्होंने लिखा, ”दोस्तों सोच रहा हूं ट्विटर छोड़ दूं।” हालांकि कुछ घंटों के बाद उन्होंने एक अन्य ट्वीट किया और कहा, दोस्तों के अनुरोध पर फिलहाल अपना फैसला स्थगित कर रहा हूं। इसी ट्वीट में उन्होंने यूजर्स से राष्ट्रवाद की परिभाषा भी पूछी।



Source link

Leave a Response